दुनिया के सबसे ज्यादा उपजाए जाने वाले मसाले के रूप में अदरक दुनिया का सबसे बहुपयोगी औषधीय गुण वाला पदार्थ है। 100 से ज्यादा बीमारियों में इस चमत्कारी मसाले के औषधीय लाभों पर अनगिनत अध्ययन किए गए हैं। आधे से अधिक पारंपरिक हर्बल औषधियों में इसे शामिल किया जाता है।

अदरक सभी के रसोई घरों में रहता है। इसका प्रयोग लोग चाय, सब्जी और विभिन्न पकवानों को बनाए में करते हैं। इसे बहुत से फायदेमंद गुण है। अदरक के कुछ अनसुने गुणों को आज हम बताने जा रहे हैं। जो आपके जीवन में कुछ काम आ सके।आइए जानते हैं इसके गुणों को विस्तार से:

-जिसे भूख न लगती हो उसके निम्बू के रस में भीगे हुआ अदरक का टुकड़े पर सेंधा नमक लगाकर भोजन से पहले खिलाएं।
-मुख से दुर्गंद आने पर एक चम्मच अदरक का रस लेकर पानी में डालकर गरम कर लें। अब इस पानी से कुल्ला करें इससे मुँह के बदबू दूर हो जाएगी।
-बार बार पेशाब लगने पर दो चम्मच रस में मिश्री मिलाकर सेवन करें।

-सीने में होने वाले तीव्र जलन से राहत पाने के लिए अदरक के रस को गन्ने के रस में डालकर और एक चम्मच पुदीने का रस मिलकर पिएँ राहत मिलेगी।
-हिचकी आने पर थोड़ा सा अदरक छील कर चूसे।
-अदरक और लहसुन को बराबर मात्रा में पीस लें। जिससे की एक चम्मच मिश्रण तैयार हो। अब इसे पानी में डालकर सेवन करें पेट दर्द बंद हो जाएगा।
-सोंठ सोध को पीस लें और गरम दूध में डालकर गरम कर के पिए हिचकी आनी बंद हो जाएगी।
-तुलसी के पत्ते का रस और अदरक का रस 2 चम्मच गरम पानी में डालकर पीने से पेट का दर्द बंद हो जाता है।
-निम्बू के रस और अदरक के रस में थोड़ा सा काली मिर्च का रस डालकर चाटें इससे भी पेट का दर्द बंद हो जाएगा।
-अदरक के रस के साथ बारीक़ सेंधा नमक मिलाकर दांत पर लगाने से दांत का दर्द दूर हो जाता है।दांतों में दर्द होने पर अदरक को छील कर दांतों तले दबाए रहे।