साराम (रोहतास) :- दाम्पत्य जीवन के बेहतर संचालन में पति-पत्नी दोनों को आत्मनिर्भर होना जरूरी है। जैसे साईकिल चलने के लिए उसके दोनों पहिया में हवा होना जरूरी है उसी प्रकार पूंजीवादी दौर में दाम्पत्य जीवन के सफल संचालन के लिए पति के साथ-साथ पत्नियों को भी आत्मनिर्भर होना जरुरी है।

शिक्षित महिलाएं तेजी से सरकारी नौकरी में प्रवेश पा रही हैं लेकिन जिन्हे नौकरी नही मिल पा रही है उनकी हुनरमंदी हीं उनके आत्मनिर्भरता और सुखी दाम्पत्य जीवन की बुनियाद है.

उक्त बातें सदर प्रमुख रामकुमारी देवी ने अमरा तालाब में जनकल्याण संस्थान और अगरेर बाजार में श्वेता सिलाई सेंटर के बैनर तले संचालित सिलाई कढाई बुनाई केन्द्र के उद्-घाटन मौके पर कहीं।

इस मौके पर प्रखंड विकास पदाधिकारी राजू कुमार , राजेश्वर सिंह, यशोदा देवी, जनेश्ववर यादव सहित कई लोग उपस्थित थे।

Subscribe us on whatsapp