कुशवाहा का जहानाबाद की सीट पर दावा पड़ सकता है कमजोर, मांझी के खाते में फैसला लिए जाने की संभावना तेज। चुनाव की घोषणा के साथ ही कुशवाहा ने यह कहते हुए कि पिछले चुनाव में रालोसपा का कैंडिडेट दूसरे नंबर पर रहा था इस लिहाज से हमारी दावेदारी सबसे प्रबल है और यह सीट हमें मिलनी चाहिए। कुशवाहा के इस दावे के बाद बिना देर किये मांझी ने भी अपनी दावेदारी ठोक दी।

अब नई परिस्थिति में जो चर्चाएं चल रही हैं उसके अनुसार जहानाबाद की सीट मांझी के खाता में जा सकती है। जैसा कि आप सभी जानते है उपचुनाव की घोषणा के बाद बिहार की राजनीति में आया उबाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। हालांकि समय के साथ सब कुछ सुलझा लेने का दावा किया जा रहा है पर इस उप चुनाव में राजनीतिक श मात और अपनी अपनी गोटी सेट करने में सभी दल लगे हैं।
राजनीति के जानकारों का मानना है कि जदयू द्वारा उपचुनाव में अपनी दावेदारी नहीं किये जाने के पीछे की राजनीति को दो पहलुओं पर आंका जा रहा है। पहला तो ये की नीतीश कुमार इस उठापटक वाली कुश्ती में चित्त हो अपनी जगहंसाई और स्थिति को उजागर नहीं करना चाहते हैं। वहीं दूसरा पहलू है कि मांझी को जहानाबाद की सीट दिला कर कुशवाहा से अपना खुन्नस निकालना चाहते हैं।

नीतीश कुमार और कुशवाहा एक ही गठबंधन में हैं पर दोनों एक दूसरे के पुराने विरोधी है। कुशवाहा का बिहार में गिरती शिक्षा व्यवस्था को लेकर मानव श्रृंखला बनाना और राजद को साथ लेने का बदला चुकाने का हाथ आया मौका नहीं गवाना चाहते हैं। ऐसे में नीतीश के दोनों ही ममकस पूरा हो जाएंगे। चुनाव नही लड़ने से एक तरफ एनडीए गठबंधन में त्याग की मूर्ति बन जाएंगे जो चुनाव में हार जीत से ज्यादा भविष्य के लिए फायदेमंद होगा।

नीतीश कुमार के तीर का निशाना तत्काल भले ही असर नहीं दिखाये, पर उसके असर बिना शोर के दूरगामी और काफी कारगर होते हैं। यह उपचुनाव महागठबंधन से अलग होने के बाद एनडीए के साथ नीतीश कुमार के लिए यह पहला चुनाव है। ऐसे में वो खुद को सेफ जॉन में रख कर बड़ी लड़ाई के लिए तैयार कर रहे हैं।

सत्ता के शीर्ष पर बैठे नीतीश कुमार के त्याग वाली छवि की बात का राजनीति के जानकार संभावना व्यक्त कर रहे हैं। यदि यह सच है तो यह नीतीश कुमार की बड़ी राजनीतिक जीत होगी। परंतु दूसरी तरफ देखा जाए तो कुशवाहा पर मांझी को तरजीह देना एनडीए के टूट का कारण बन सकता है। उपचुनाव में इस बनते बिगड़ते समीकरण और राजनीतिक सह-मात के खेल में कौन इस गेम का चेकमेड़ करता है देखने वाली बात होगी।

Subscribe us on whatsapp