बिहार ही नहीं देश और दुनिया में राजनीतिक रुप से सत्ता और विपक्ष के बीच बयान दर बयान एक दूसरे पर हमले होते रहते हैं। बिहार की राजनीति में सत्ता और विपक्ष में जिस तरह की बयानबाजी चलती है, वह पूरे देश भर में चर्चा का विषय है। कुछ दिन पूर्व तक एक दूसरे से कंधे से कंधा मिलाकर चलने वाले राजद और जदयू, महागठबंधन टूटने के बाद एक दूसरे के प्रबल विरोधी बन गए हैं। दोनों एक दूसरे पर बयानों से हर मुद्दों एक पर हमाला करते हैं। अब तो स्थिति ये हो गई है कि मामला व्यक्तिगत आरोप प्रत्यारोप तक पहुंच चुका है। पर जो ताजा बयान तेजस्वी का सामने आया है “बिहार में शराबबंदी का ये हाल” इस पर एक सियासी बवंडर की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है।

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सोशलमीडिया के माध्यम से एक पोस्ट किया है। जिसमें उन्होंने एक मकान का तस्वीर साझा किया है। जिसके गेट पर तो ताला बंद है, पर चारों तरफ से अंदर जाने का रास्ता है। गेट के अगल-बगल किसी तरह की कोई चारदीवारी नहीं है। गेट पर ताला लगे होने के बावजूद मकान में बिना रोक-टोक आराम से बगल के रास्ते से पहुंचा जा सकता है। इस पोस्ट के माध्यम से यह भी दिखाने का प्रयास किया गया है कि किसी तरह का सुरक्षा व्यवस्था भी नहीं बहाल किया गया है।

इस तस्वीर के साथ तेजस्वी यादव ने सिर्फ इतना लिखा है “बिहार में शराबबंदी का ऐसा है हाल।” इस तस्वीर को देखने के बाद कोई भी सामान्य व्यक्ति पूरे मज़मून को समझ सकता है। तेजस्वी क्या कहना चाह रहे हैं इस तस्वीर के माध्यम से बिना कुछ कहे सब कुछ बयान कर रहे हैं। जबसे लालू प्रसाद यादव चारा मामले में रांची के बिरसा मुंडा जेल में बंद हैं। तब से तेजस्वी यादव ने मोर्चा संभाल रखा है। अब तेजस्वी के इस पोस्ट के बाद निश्चित ही एक बार फिर से बिहार में राजनीतिक बयानों का दौर शुरू होगा।
शराबबंदी महागठबंधन की सरकार के संयुक्त फैसले से लागू की गई थी। महागठबंधन में शामिल सभी पार्टियों राजद, जदयू और कांग्रेस ने इसे लागू करने और अमल किये जाने के लिए हर तरह का प्रयास किया था। इसके लिए एक ऐतिहासिक मानव श्रृंखला भी बनाई गई थी।

महागठबंध टूटने के बाद से ही शराबबंदी को लेकर विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव और राजद द्वारा लगातार सवाल उठाया जाता रहा है। इस पोस्ट के द्वारा तेजस्वी यादव ने वर्तमान सरकार पर बड़ा प्रहार किया गया है। आगे देखना होगा कि तेजस्वी यादव के इस पोस्ट के बाद सत्ता पक्ष से किस तरह की प्रतिक्रिया देता है।

Subscribe us on whatsapp