संस्कृत व्याकरण के विषय में कोई भी नई बात कहना लगभग असम्भव है. अगर हम इस पुस्तक की बात करे तो इस पुस्तक में विषय वस्तु को अपनी शैली के फ़लस्वरूप नवीन, सुगम एवम् रोचकपूर्ण ढंग से प्रस्तुत किया गया हैं. गूगल संस्कृत सहचर के माध्यम से छात्र बेहद ही सुगम व बोधगम्य तरीके से इसकी पढ़ाई कर अपने परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त कर सकते है.

गूगल संस्कृत को पढने वाले छात्र बिहार विद्यालय परीक्षा समिति झारखंड एकेडमिक कौसिल (J.A.C) (C.B.S.E) एवं देश के अन्य सभी राज्यों के माध्यमिक परीक्षाओं में उच्चतम अंक प्राप्त कर सकते हैं. आपको बताते चलें की गूगल संस्कृत सहचर के लेखक राकेश पाण्डेय हैं, जो सीवान के आंदर के भावराजपुर गांव के निवासी हैं और सीवान जीरादेई के महेंद्र उच्च विद्यालय संस्कृत के शिक्षक के पद पर कार्यरत हैं. उनकी शिक्षा दीक्षा सिवान DAV कॉलेज से हुई है. साथ ही साथ जयप्रकाश विश्वविद्यालय से m.a. की डिग्री प्राप्त करने के बाद से यह राष्ट्रीय संस्कृत महाविद्यालय नई दिल्ली से मान्यता प्राप्त पूरी में एक विश्वविद्यालय से डिग्री प्राप्त कर चुके हैं.

बता दें कि वह इसके साथ ही सिवान के डीएवी उच्च विद्यालय से कई प्रतियोगिताओं में सम्मानित भी हो चुके हैं. Google संस्कृत सहचर सिवान में कई पुस्तक स्टॉल पर भी उपलब्ध है. जल्द ही यह पुस्तक Amazon पर भी उपलब्ध कराया जाएगा.

Subscribe us on whatsapp