न्यूज़ बिहार डेस्क: बिहार के पथ निर्माण मंत्री नदंकिशोर यादव ने कहा कि पटना में गंगा नदी पर बनने वाला तीसरा सड़क पुल अगले चार वर्षों में बनकर तैयार हो जायेगा। श्री यादव ने यहां कच्चीदरगाह से वैशाली के विदुपुर के बीच गंगा नदी पर बनने वाले छह लेन सड़क-पुल के कार्यों का मुआयना और समीक्षा बैठक के बाद बताया कि पटना में गंगा नदी पर बनने वाला तीसरा सड़क पुल अगले चार वर्षों के भीतर बन कर तैयार हो जायेगा। उन्होंने कहा कि छह लेन में बनने वाले इस पुल के निर्माण कार्य पर 3115 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है।
पुल के निर्माण कार्य ने गति पकड़ ली है और 87 में से 30 पीलरों का निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है। मंत्री ने कहा कि 22.76 किलोमीटर लम्बा यह पुल दुनिया का सबसे लम्बा सड़क-पुल होगा। इसमें कुल 87 पीलर होंगे जिनमें से 67 गंगा नदी में तथा शेष 20 दियारा क्षेत्र में होगा। दियारा क्षेत्र में भी पुल के दोनों ओर चढ़ने-उतरने की व्यवस्था तो रहेगी ही, दियारा क्षेत्र की 20 पंचायतों में भी आने-वाले दिनों में सड़कों के नेटवर्क का विस्तार किया जायेगा।

श्री यादव ने कहा कि दियारा क्षेत्र में एक नये शहर की संभावना बनेगी। राघोपुर दियारा का दूसरे शहरों से बाढ़ के कारण संपर्क वर्ष में छह माह पूरी तरह कट जाता है। उन्होंने कहा कि इस पुल के बनने से यह इलाका यातायात की मुख्य धारा से तो जुड़ेगा ही, इस क्षेत्र का आर्थिक रूप से उन्नयन भी होगा।

मंत्री ने बताया कि पुल निर्माण के लिए 313 एकड़ भूमि में से 246 एकड़ जमीन मिल चुकी है। इस योजना के तहत दो स्थानों बंकाघाट और गंगानदी के उस पार कल्याणपुर के पास रेलवे ऑवर ब्रिज तथा दो स्थानों खानपुर और कल्याणपुर में नदियों पर पुल का निर्माण किया जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रस्तावित सड़क-पुल पर दो टोल-प्लाजा होगा जहां स्थानीय लोगों को टैक्स नहीं देना होगा।श्री यादव ने आज चार घंटे तक पटना और वैशाली जिले के विभिन्न साइटों में चल रहे निर्माण कार्य का अवलोकन किया और अद्यतन प्रगति की स्थिति से अवगत हुए।

इस दौरान उनके साथ पथ निर्माण विभाग के प्रधान सचिव सह बिहार स्टेट सड़क विकास निगम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक अमृतलाल मीणा, निर्माण एजेंसी लार्सन एंड टुब्रो (एलएंडटी) के निदेशक आर.रंगनाथन और डेबू के श्री किम भी शामिल थे।

Subscribe us on whatsapp