जनसंख्या से बेरोजगारी को लेकर केंद्रीय मंत्री का बड़ा बयान, कहा वोट के अधिकार से वंचित कर देना चाहिए।  लगातार जमीन विवाद में नाम उछाले जाने के बाद चुप रहे केन्द्रीय मंत्री गिरीराज सिंह ने एक बार फिर से कांग्रेस पर निशाना साधा है। गिरिराज सिंह ने सीधे सीधे बेरोजगारी के लिए देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरु और उनकी नीतियों को दोषी बताया है। नेहरू पर कमजोर और अपुष्ट आर्थिक नीति के हवाले से कांग्रेस पर जम कर हमला किया है।


सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार गिरिराज सिंह ने अपनी बात को रखते हुए कहा कि महात्मा गांधी ने जो अर्थ नीति का सुझाव दिया था उसे पंडित नेहरू ने ही खत्म कर दिया। वहीं देश में विकास के नेहरू मॉडल को बेरोजगारी बढ़ाने वाला और बेरोजगारी का सबसे बड़ा कारण बताया है। गिरिराज ने कहा कि आज जो देश का युवा वर्ग परेशान है वो नेहरू और कांग्रेस की देन है।


आपको बता दें मुजफ्फरपुर में एक कार्यक्रम के बाद गिरिराज सिंह ने उक्त बातें कही। आगे उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी की कृपा से नेहरू प्रधानमंत्री तो बने लेकिन उनकी आर्थिक सोच को कांग्रेस पार्टी ने दफना दिया। अपनी सोच को थोप कर नेहरू ने एक गलत और निर्रथक रास्ता अर्थनीति को दे दिया जिसका खामियाजा आज तक देश भुगत रहा है। यही नहीं उसके बाद भी कांग्रेस को नेहरू परिवार ने उनके अक्षम नीतियों को जारी रख अर्थ व्यवस्था को पूरी तरह से क्षत विक्षत कर दिया।

आगे गिरिराज सिंह ने कहा कि यदि कांग्रेस के लोग जो देश की सत्ता पर बैठे समीक्षा किये होते या देश मे बढ़ती बेकारी बेरिजगारी खत्म करने की सोचे होते तो आज ये हाल नहीं होता। उसके साथ ही अगर नेहरू या उनके बाद के कांग्रेसी प्रधानमंत्रियों ने महात्मा गांधी की नीतियों को जमीन पर उतारा होता तो बेरोजगारी की समस्या इतनी विकराल नहीं होती। इसके साथ ही बढ़ती जनसंख्या पर भी गिरिराज सिंह ने कांग्रेस और नेहरू के शासन को दोषी बताया। बेरोजगारी और बढ़ती हुई जनसंख्या भारत की सबसे बड़ी समस्या है जिसको लेकर कांग्रेस ने कोई ठोस कानून नहीं बनाया। आज बेतहाशा बढ़ती जनसंख्या भारत मे बढ़ती बेरोजगारी की सबसे बड़ी वजह है। जब जब भाजपासत्ता में आई तब तब उसने इस समस्या पर काम किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी लगातार बेरोजगारी खत्म करने की दिशा में काम कर रहे हैं और स्थाई योजना बनाया जा रहा है।

गिरिराज सिंह ने कहा भारत विश्व का सबसे युवा देश है और यहां क्षमताओं का भरमार है। लोग देशहित मे हर तरह का त्याग करने को सदैव तैयार रहते हैं। सीमित संसाधन वाले देश भारत पर बढ़ती जनसंख्या भारी पड़ रही है। गिरिराज सिंह ने कड़ा रुख अपनाने पर जोर दिया और कहा कि जनसंख्या बढ़ाने वालों से मतदान का अधिकार छीनने व आर्थिक प्रतिबंध लगाए जाने की भी वकालत की। आपको बता दें कि गिरिराज सिंह तीखे बयानों के लिए जाने जाते हैं। उनके इस बयान पर किस तरह की प्रतिक्रिया आती है यह भी देखने वाली बात होगी। जुड़े रहिये न्यूज़ बिहार के साथ हम आपको हर उस खबर से बाख़बर रखेंगे जिनसे आपका सीधा सरोकार है।

Subscribe us on whatsapp