अभी भागलपुर से एक अत्यंत ही दुखद खबर आ रही है की भागलपुर में तिलकामांझी क्षेत्र के निर्माणाधीन मकान के मलवे के नीचे  एक महिला और उसके बच्चे दब गए हैं। महिला की मौत हो गई पर बच्चे को किसी तरह बचा लिया गया है। सूत्रों के अनुसार भागलपुर में निर्माणाधीन मकान में अंडरग्राउंड बनाने के लिए खुदाई का काम चल रहा था। जिससे प्रभावित होकर बगल में खड़ा एक तीन मंजिला इमारत धराशाई हो गया। जिस में दबकर एक महिला की मौत हो गई हैं और एक बच्चा भी दबा हुआ था जिसे मलबे के अंदर से निकाल लिया गया है।


घटना तिलकामांझी थाना की है जहां मलबे को हटाने का कार्य चल रहा है। घटनास्थल पर तिलकामांझी थाना प्रभारी पूरे दल बल के साथ बचाव कार्य में लगे हुए हैं।जैसे ही इस घटना की सूचना मिली स्थानीय लोग और प्रशासन मौके पर पहुंचकर राहत और बचाव कार्य में जुट गया है। लोगों की तत्परता से नवजात बच्चे को तो बचा लिया गया पर उसकी मां अभी भी मलबे में दबी हुई है। काफी आवाज लगाने पर भी कोई आवाज नहीं आ रही है। जिसके कारण लोगों का अनुमान है की महिला की मृत्यु हो गई है।

तिलकामांझी थाना प्रभारी के अनुसार प्रशासन पूरी तरह से बचाव कार्य में लगा हुआ है। जेसीबी मशीन मंगा ली गई है, एसडीआरएफ की टीम भी घटनास्थल पर के लिए रवाना हो चुकी है। हलाकि अभी भी लगातार लोग मलवा हटा रहे हैं इस मकान के अगल बगल में भी जो मकान है, उनके लिए स्थिति जर्जर है सूत्र बता रहे हैं। घर मालिक ने जैसे ही कुछ आवाज सुना घर से बाहर निकल आए। पर पत्नी और बच्चे घर के अंदर ही रह गए थे। बच्चे को तो बचा लिया गया है महिला की मृत्यु हो गई है।

खबर लिखे जाने तक राहत और बचाव कार्य जोर शोर से चल रहा है। अभी तक महिला का शव बाहर नहीं निकाला जा सका है। मकान तीन मंजिला था जिसके कारण भारी मात्रा में मलवा जमा हो गया है। जेसीबी मशीन का इंतजार किया जा रहा है। एसडीआरएफ की टीम पहुंचने के बाद और भी तेजी से राहत का कार्य शुरू होगा।

Subscribe us on whatsapp