कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने अमेरिका यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया में विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए विभिन्न मुद्दों पर अपने विचार व्यक्त किये.  इसी दरमियान राहुल गांधी कहा कि ‘मैं प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनने के लिए तैयार हूं, लेकिन हमारी पार्टी में लोकतंत्र है, अगर पार्टी कहेगी तो ही मैं यह जिम्मेदारी लूंगा।’
इसके साथ ही उन्होने यह स्विकार किया कि 2012 में कांग्रेस पार्टी में अहंकार आ गया था। राहुल ने कहा कि ‘हमने लोगों से संवाद करना बंद कर दिया था, इसलिए 2014 के चुनाव में पार्टी की हार हो गई।‘