आरा : पीरो थाना क्षेत्र के इब्राहिमपुर गांव निवासी प्रदीप यादव उर्फ चुन्नू की हत्या के मामले में गिरफ्तार उसी गांव के पप्पू यादव और गुड्डू यादव को जेल भेज दिया गया है। पीरो थाने की पुलिस हत्या के इस मामले के तीसरे आरोपित की गिरफ्तारी और हत्या में प्रयुक्त पिस्टल की बरामदगी को ले छापेमारी कर रही है। जेल भेजे गये दोनों युवकों से पूछताछ के बावजूद पुलिस को हत्या का स्पष्ट कारण जानने में सफलता नहीं मिल सकी है।

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मृतक सूद पर पैसे चलाने का कारोबार करता था। इसके अलावा मछली के तालाब की बंदोबस्ती में पार्टनर था। पूर्व में चरपोखरी थाना क्षेत्र के मनैनी बाजार के समीप हुए एक लूटकांड में वांछित था। पुलिस सूत्रों ने बताया कि मृतक और उससे जुड़े सभी मामलों की गहराई से जांच-पड़ताल की जा रही है।

परिवार के कमाऊ सदस्य प्रदीप कुमार उर्फ चुन्नू यादव की हत्या के बाद परिजनों पर दु:खों का पहाड़ टूट गया है। माता-पिता, भैया-भाभी, पत्नी और बेटा-बेटी रुदन-क्त्रंदन के माहौल में डूबे हैं।

बता दें कि इब्राहिमपुर निवासी साधारण किसान ददन यादव के दो पुत्रों में मृतक प्रदीप छोटा था। मृतक अपने बड़े भाई मुन्ना यादव के साथ कमाकर परिवार की गाड़ी को आगे बढ़ाने में अहम भूमिका निभाता था। करीब पांच वर्षों पूर्व उसकी शादी रोहतास जिले के राजपुर के समीप हुसैनाबाद निवासी ममता से हुई थी। मृतक को चार साल का एक बेटा राजकुमार उर्फ राजा और दो साल की बेटी काजल है। मां शारदा देवी, पिता ददन यादव और बड़े भाई मुन्ना यादव व उनकी पत्नी परिवार के एक कमाऊ सदस्य खोने को लेकर रो रहे हैं।

वहीं दूसरी ओर पत्नी ममता पति के चले जाने के बाद बेटा-बेटी की परवरिश को लेकर लगातार रोये जा रही है। अबोध बेटा-बेटी राजा और काजल तो आश्चर्य में डूबे हुए हैं कि यह क्या हो रहा है और लोग क्यों रो रहे हैं? अबोध बेटा-बेटी को यह भी नहीं पता है कि उनके सिर से पिता का साया उठ गया है। हालांकि दोनों अबोध भी अपनी मां को रोते देख रोने लगते हैं।

Subscribe us on whatsapp