न्यूज़ बिहार डेस्क: कल यानी गुरुवार को 3 बजे राजधानी में अचानक धुंध यानी स्मॉग छा गया।वायुमंडल में धूलकण व धुआं की मात्रा अधिक होने और तापमान गिरने से ऐसा हुआ है। दिल्ली के बाद पटना भी खतरनाक हवा पहुंच गई है। पटना मौसम केंद्र के अनुसार यह स्थिति पटना में एक-दो दिनों तक रहेगी।

मौसमविद के अनुसार दरअसल पछुआ हवा की रफ्तार कम है। इस वजह से नमी बढ़ गई। ऊपर से धूलकण और धुआं होने से धुंध छा गया जिससे हवा खतरनाक हो गई। बच्चों और वृद्ध लोगों के लिए यह स्थिति ठीक नहीं हैं। उन्हें सीने में दर्द, वोमेटिंग की प्रवृति और शरीर में जलन हो सकता है। इस हालत में घर से बाहर निकले लोग मास्क और पूरे कपड़े पहनकर निकलें।

पटना विवि के कुलपति व भूगोलविद रासबिहारी सिंह ने बताया पटना और आसपास इलाकों में ईंट-भट्टों से रोजाना भारी मात्रा में धूलकण निकल रहे हैं। यही नहीं पटना में रोजाना वाहनों की तादात बढ़ रही है। पुराने वाहनों से प्रदूषित धुआं निकल रहा है। तापमान गिरने से नमी बढ़ गई। गुरुवार को सुबह में नमी 96 फीसदी तो शाम में करीब 80 प्रतिशत मापी गई। इसके अलावा पटना और आसपास इलाकों में भवन निर्माण हो रहे हैं इससे भी धूलकण निकल रहे हैं। जब तक हवा की रफ्तार कम रहेेगी यही स्थिति बने रहने की संभावना है।

Subscribe us on whatsapp