कांग्रेस हमेशा से लोकतंत्र को सुगम बनाने की पक्षधर रही है। लोकसभा और विधानसभा के चुनाव एक साथ कराने की कांग्रेस पक्षधर है। कांग्रेस के मीडिया पैनलिस्ट और कांग्रेस नेता प्रेमचंद मिश्र ने उक्त बातें कही। उन्होंने जेडीयू के तरफ से लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ कराए जाने के बयान पर अपनी पार्टी कांग्रेस की तरफ से प्रतिक्रिया दिया है।
कांग्रेस प्रवक्ता प्रेमचंद मिश्रा ने कहा की जेडीयू गफलत में और कन्फ्यूज भी। बीजेपी के साथ जाने के बाद जेडीयू की साख गिरी है। अब नीतीश कुमार जी को इसका पश्चाताप हो रहा है। गिरती साख को बचाने के लिए छटपटा रहे हैं और चाहते हैं कि मोदी के साथ उनका भी बेड़ा पार हो जाए। पर अब ऐसा होना शायद नीतीश कुमार के लिए मुश्किल होगा। बिहार की जनता ने जनादेश के अपमान को दिल पे ले लिया है। आने वाले चुनाव में उन्हें इसका खामियाजा निश्चय ही भुगतना पड़ेगा। किसी भी तरह से ठीके रहने की जंग लड़ रहे हैं नीतीश कुमार।


प्रेमचंद मिश्र ने कहा कि सरकार उनके हाथ मे है चाहे जब चुनाव कराए लें कांग्रेस पूरी तरह से तैयार है। उन्होंने यह भी दावा किया की कांग्रेस के साथ साथ पूरा विपक्ष भी तैयार है। नीतीश कुमार इस तरह की घुड़की हमें न दे क्योंकि ये सब जान चुके हैं कि भाजपा के साथ जाने के बाद आप खिलौना बन कर रह गए हैं। पिछले पाँच महीने में आपने बिहार को पीछे धकेल दिया है।


इस मुद्दे पर बिहार प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी अध्यक्ष कौकब कादरी ने भी कहा कि कांग्रेस तो 2018 में भी लोकसभा और विधानसभा के चुनाव कराये जाने के लिए पूरी तरह तैयार है। बिहार में जेडीयू के एनडीए में शामिल होने से हालत खराब है। इससे बीजेपी की भी हवा निकल चुकी है। उधर जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह का बिहार में जल्द चुनाव करा लेना वाला बयान जदयू के डर का प्रकटीकरण है। राहुल गांधी के अध्यक्ष बनते ही भाजपा सहित एनडीए में हड़कंप मच गया है। पूरे देश में राहुल गांधी जी को लेकर एक नई तरह की सोच पैदा हुई है। कांग्रेस तो हर पल चुनाव के लिए तैयार रहने वाली पार्टी है। इसलिए हमें चुनाव का डर न दिखाएं और खुद अपना आंकलन करें।

आपको बता दें कि जदयू ने लोकसभा और विधानसभा के चुनाव एक साथ 2019 मे कराये जाने की बात कही थी। जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा है कि जदयू पूरी तरह से तैयार है। प्रधानमंत्री मोदी का विचार है कि लोकसभा और विधानसभा के चुनाव एक साथ कराये जाएं जिसका जदयू ने समर्थक किया है। कांग्रेस के मीडिया पैनलिस्ट प्रेमचंद मिश्र ने जदयू के लोकसभा और विधान सभा चुनाव एक साथ कराये जाने वाले बयान पर पलटवार किया। आगे देखना होगा कि इस पर जदयू की क्या प्रतिक्रिया आती है।

Subscribe us on whatsapp