मकर संक्रांति को लेकर इस बार पटना डेयरी प्रोजेक्ट (सुधा ) ने कमर कस लिया है सुधा डेयरी के सूत्रों द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार हर साल की तरह इस बार दूध और दही की कोई किल्लत नहीं होने दी जाएगी। सुधा द्वारा इस वर्ष मकर संक्रांति के अवसर पर राजधानी में 27 लाख लीटर दूध की आपूर्ति करने का लक्ष्य रखा गया है। वहीं 3 लाख किलोग्राम दही की आपूर्ति पटना में करने की तैयारी है।

इस आशय की जानकारी देते हुए पटना डेयरी प्रोजेक्ट के प्रबंध निदेशक सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि राजधानी में मकर संक्रांति के शुभ अवसर अपने सम्मानित उपभोक्ताओं के लिए दूध एवं दही के आपूर्ति की भरपूर व्यवस्था की गई है। गत वर्ष इस अवसर पर 27 लाख लीटर दूध की आपूर्ति की गई थी जो इस वर्ष 30 लाख लीटर या उससे अधिक बेचने का लक्ष्य रखा गया है।


निदेशक ने बताया कि पटना डेयरी द्वारा अपने 2000 से अधिक रिटेल आउटलेट के माध्यम से दूध की बिक्री की जाएगी। इसके अतिरिक्त पटना शहर में 6 स्थानों पर मिल्क टैंकर के माध्यम से खुदरा दूध उपलब्ध कराया जाएगा। पटना के विभिन्न सुधा सेटरों जैसे
1. बोरिंग रोड चैराहा,
2. आर0 ब्लाॅक चैराहा,
3. पटना काॅलेज,
4. पीरमुहानी
5. दिनकर गोलम्बर एवं
6. गाय घाट पूल के नीचे
इन छह स्थानों पर मिल्क टेंकर के माध्यम से दूध आपूर्ति की व्यवस्था की गई है जहां लोग खरीदारी कर सकते हैं।


इसके अलावा तकरीबन 60 मिल्क वैन के माध्यम से दूध की आपूर्ति पटनावासियों को किया जाएगा। जहां दूध की कमी होगी, वहां पर टैंकर से आपात अवस्था में आपूर्ति की जायेगी। इसके लिए डेयरी ने 6 बैक-अप गाड़ियों को तैयार रखी जा रही है जो आवष्यकतानुसार दूध की कमी को पूरा करेगी।
श्री सिंह ने बताया कि दूध के अतिरिक्त लोगों का झुकाव सुधा के दही की ओर भी काफी बढ़ता जा रहा है। पिछले वर्ष सुधा ने 2 लाख किलोग्राम दही की आपूर्ति किया था। इस बार 3 लाख किलोग्राम दही की आपूर्ति मकर संक्रान्ति के अवसर पर किया जाएगा।

सादा दही
200 ग्राम (25.00 प्रति पैक),
400 ग्राम (45.00 प्रति पैक),
500 ग्राम (50.00 प्रति पैक),
2 किलोग्राम (200.00 प्रति पैक),
5 किलोग्राम (475.00 प्रति पैक)
16 किलोग्राम (1440.00 प्रति पैक) के पैक में उपलब्ध रहेगा।
सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि इस बार दही डेनमार्क से मंगाये गये जोरन से जामाया जाएगा।

Subscribe us on whatsapp