बिदुपुर थाने से एक अजीबो गरीब मामला सामने आरहा है. यहाँ एक पत्नी के दो पति आपस में भीड़ पत्नी और उसके दो बच्चों पर अपनी अपनी दावेदारी पेश कर रहे है. दोनों युवकों के बीच हो रहा विवाद लोगों के समझ में नहीं आया तो मौजूद लोगों ने इसकी सूचना बिदुपुर थाने को दे दी. सूचना पाकर बिदुपुर थाने के सहायक अवर निरीक्षक विनोद यादव व अन्य पुलिसकर्मी घटनास्थल पर पहुंच सभी को पकड़कर थाना पर ले आये.
कंचन के पहले पति धर्मेन्द्र दास से मिली जानकारी के अनुसार कंचन के साथ उसकी शादी परे विधि विधान से हुई थी. उसके दो बच्चे भी हैं. उसने आगे बताया कि कंचन को उसकी बहन ने भगाकर दूसरी शादी करवा दी और इसमें काम में उसके ससुरालवालों का भी हाथ है.

इस मामले में कंचन के दूसरे पति अनिल कुमार से मिली जानकारी के अनुसार उसने महिला की स्वेच्छा से महुआ के एक मंदिर में शादी किया था. कंचन के साथ उसका वैवाहिक जीवन खुशी से गुजर रहा है.

इस मामले में अहम कड़ी कंचन ने पुलिस के समक्ष यह स्वीकार किया कि उसके दोनों बच्चों के पिता धर्मेन्द्र ही है. उसका पहले पति से हमेशा झगड़ा होता था. पति की प्रताड़ना से तंग हो वह घर से भाग गई थी. घर से भागने के बाद उसने अपने प्रेमी से शादी की है. इसके आलावा वह अपने दूसरे पति अनिल के साथ ही रहना चाहती है. फिलहाल बिदुपुर पुलिस इस तिहड़े रिश्ते के मामाले को सुलझाने में लगि है.