महाराष्ट्र की भाजपा नेता पंकजा मुंडे पर महिला एवं बाल कल्याण मंत्री से जुड़े विभाग पर  घोटाले के आरोप आम आदमी पार्टी की सदस्य प्रीति शर्मा-मेनन ने एक संवाददाता सम्मेलन में लगाया है| मेनन ने कहा कि पंकजा ने नियम तोड़ मरोड़कर एकात्मिक बाल विकास योजना के तहत पोषण आहार बनाने के ठेके फर्जी स्वयं सहायता समूहों को दिए।

प्रिटी शर्मा का आरोप है कि कुल 5439.40 करोड़ रुपये के ठेकों में से 4805.78 करोड़ रुपये के ठेके तीन ऐसे समूहों को दिए गए जिन्हें सुप्रीम कोर्ट ने ब्लैक लिस्ट किया है। जबकि, 633.50 करोड़ रुपये के ठेके जिन 15 समूहों को दिए गए उसमें से 12 अपात्र हैं।

प्रिटी शर्मा ने आंगनवाडी में अब तक का सबसे बड़ा घोटाला बताते हुए कहा कि बाल विकास सेवा (आईसीडीएस) के पोषण आहार का 88 प्रतशित (4,806 करोड़ रुपये) ठेका प्राइवेट ठेकेदार वेंकटेश्वर महिला औद्योगिक उत्पादन सहकारी संस्था लिमिटेड, महालक्ष्मी महिला गृह उद्योग एवं बाल विकास बहुउद्देशीय औद्योगिक सहकारी संस्था और महाराष्ट्र महिला सहकारी गृह उद्योग संस्था लिमिटेड को दे दिया गया, जबकि 12 प्रतिशत ( 633 करोड़ रुपये) ठेका 15 महिला बचत गट को दिया गया। मेनन के अनुसार, तीनों प्रमुख ठेकेदार अपात्र है।