01 दिसंबर 2017 को संपूर्ण भारत बंद रहेगा। पिछले काफी दिनों से या यूं कहें कि जब से इसकी जानकारी और इसके निर्माण में तथ्यों को तोड़ मरोड़ कर पेश करने की बात सामने आई है देशभर में खुल कर लोग विरोध कर रहे हैं। पहले तो राजपूत समाज के लोगों ने ही विरोध किया था। पर अब इस विरोध में और कई वर्ग और समाज का साथ मिल रहा है।

बात हो रही है फ़िल्म पद्मावती की इसके निर्माता और निर्देशक संजय लीला भंसाली  पर फ़िल्म पद्मावती में इतिहास के साथ छेड़-छाड करने का आरोप लगाया जा रहा है। विरोध करने वालों का कहनाआ है कि इससे न सिर्फ राजपूत  समाज को नुकसान पहुंचाया  गया है बल्कि  हिन्दू अस्मिता पर भी हमला किया है।इसका  मुँहतोड़ जबाब देना जरूरी है वैसे लोगों को जो देश के अधिसंख्यकों की भावनाओं के साथ खेलने का कुत्सित प्रयास कर रहे हैं। विरोध करने वालों ने सभी देशवासियो  से अपील किया है की पद्मावती सिनेमा का बहिष्कार  करें।


पटना में इस मुद्दे पर लोगों से मिलने आये करणी सेना के संस्थापक  राष्ट्रीय अध्यक्ष लोकेन्द्र  सिंह कालवी  ने पटना में पत्रकारों से बात किया। कलवी ने कहा कि “हिन्दू समाज का है ऐलान, पद्मावती रिलीज हुआ तो मचेगा  घमासान  ” इसके बाद उन्होंने 01 दिसम्बर को प्रस्तावित भारत बंद को सफल बनाने का आहवान भी किया। 

Subscribe us on whatsapp