भागलपुर से विधायक की खुलेआम दबंगई सामने आ रही है। भागलपुर कांग्रेस विधायक अजीत शर्मा की बड़ी दबंगई सामने आई है। विधायक अजीत शर्मा भागलपुर के एक बड़े व्यवसायी हैं। भागलपुर में उनके कई तरह के व्यवसाय हैं। ताजा मामला जबरदस्ती जमीन कब्जा करने से जुड़ा है।

आपको बता दें कि भागलपुर से दूसरी बार विधायक चुने गए अजीत शर्मा क्षेत्र के जाने माने व्यवसायी हैं। पहली बार उपचुनाव में जनता ने इन्हें जिताया था। पिछले चुनाव में भी उनको जनता का साथ मिला और विधायक बने। आरोप है कि विधायक का भागलपुर में कचहरी चौक पर एक होटल बनवाया है। इस होटल के आस पास एक इंच भी जमीन नहीं छोड़ी गई है जिससे कि आगंतुकों के वाहन पार्क किये जा सकें। विधायक अजीत शर्मा बड़े रसूखदारों में शामिल हैं अतः उनके होटल में आने वालों के वाहनों की लम्बी कतार लग जाती है जिसके लिए पार्किंग की जगह तक नहीं छोड़ी गई है। अब जबकि होटल बन कर तैयार है और इसका शुभारम्भ भी जल्दी होने वाला है। अपने पावर और रसूख का इस्तेमाल करते हुए अजीत शर्मा ने सरकारी जमीन पर कब्जा कर होटल का पार्किंग बना लिया है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार होटल के सामने नेशनल हाइवे की जमीन है जिसे कब्जा कर पार्किंग में तब्दील कर दिया गया है। बड़ी चतुराई से होटल के आगे नहीं, उल्टा तरफ से सरकारी जमीन पर सीमेंटेड फुट ब्लॉक बिछा कर कब्जा कर लिया है। सूत्र बताते हैं कि पिछले कई माह से फुट ब्लॉक बिछाने का काम चल रहा है। जब इस संबंध में एनएच और नगर निगम से पूछा गया तो विभाग ने इनकार करते हुए कहा की उनके द्वारा ब्लॉक नही बिछाया जा रहा है। लोगों ने कौतूहल बस पूछा कि केवल होटल के सामने ही क्यों ब्लॉक बिछाया जा रहा है। इसके बाद खुलासा हुआ की दरअसल यह सड़क एनएच की है और होटल के द्वारा ब्लॉक बिछा कर इसे पार्किंग के रूप में प्रयोग करने के लिए कब्जा किया जा रहा है।


जब इस संदर्भ में विधायक अजीत शर्मा से होटल के सामने सड़क किनारे लगे सीमेंटेड ब्लॉक बिछाए जाने के बारे में पूछा गया, तो उल्टे आगबबूला हो गए। गुस्से से तमतमाये हुए बोले, आप पूछने वाले होते कौन हैं, क्या आप मुख्यमंत्री हैं? दूसरा सवाल दागा आप ये कह रहे हैं कि ये मैं करवा रहा हूँ ? ये क्या लगा रखा है, आप लोगों को और कोई काम नहीं है क्या? फुटपाथ बन रहा है चौराहे का काया कल्प हो रहा इससे आपको क्या दिक्कत है? आप जैसे लोग ही शहर को गंदा रखना चाहते हैं।
अब सवाल ये है कि एनएच के द्वारा काम को नही कराया जा रहा अधीक्षण अभियंता लक्ष्मी नारायण सिंह ने इंकार कर दिया है। कहा कि शायद नगर निगम करा रहा हो। नगर निगम के योजना शाखा प्रभारी आदित्य जायसवाल से पूछने पर कहा कि पता नहीं कौन बनवा रहा, पर ये तय है कि नगर निगम के द्वारा काम नही कराया जा रहा है। बचा शहरी विकास अभिकरण विभाज तो इसके भी कार्यपालक अभियंता ने कहा कि मेरे विभाग से काम नहीं कराया जा रहा है।

इसके बाद जब यह मामला एसडीओ सुहर्ष भगत के संज्ञान में लाया गया तो उन्होंने कहा कि मामला अब मेरे संज्ञान में आ गया है। इसकी पूरी पड़ताल करवा कर उचित कार्यवाई होगी। इस बीच स्थानीय नागरिक और अन्य सामाजिक राजनीतिक कार्यकर्ताओ में सरकारी जमीन विधायक अजीत शर्मा द्वारा कब्जा किये जाने को लेकर काफी गुस्सा है।

Subscribe us on whatsapp