पटना, न्यूज़ बिहार डेस्क (ए के गौतम) उतर प्रदेश में 72 घंटे के अंदर 2 ट्रेन हादसे को लेकर काग्रेस ने पीएम मोदी से मांग की है की सुरेश प्रभु को उनके पद से हटा कर किसी वैसे को इसका पदभार दिया जाये की वह अपने कार्यो को ईमानदारी पूर्वक निभा सके.

सुरजेवाला ने कहा है की मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल में 28 बड़े रेल हादसे हुए हैं. इनमें 259 रेलयात्रियों की जानें गई और 973 लोग घायल हुए. वर्ष 2016-17 में ट्रेन हादसों की संख्या पिछले एक दशक में सबसे अधिक है. सुरजेवाला ने कहा की  अगर मोदी बुलेट ट्रेन के लिए एक लाख करोड़ रुपये दे सकते हैं तो रेलवे सुरक्षा के लिए 46 हजार करोड़ रुपये का प्रबंध क्यों नहीं कर सकते.

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहन  कि रेल प्रणाली में सुधार के लिए पिछले तीन सालों में रेल मंत्री या सरकार की तरफ से कोई गंभीर प्रयास नहीं किए गए. उन्होंने कहा, एक तरफ तो रेल सुरक्षा से गंभीर समझौता किया जा रहा है, वहीं यात्री किराये, माल भाड़े, प्लेटफार्म टिकट, आरक्षण शुल्क आए दिन बढ़ाये जा रहे हैं.