आरा : मकर संक्राति को लेकर शहर से लेकर देहात तक चहल-पहल बढ़ गई है। मकर संक्राति के अवसर पर खाने वाली चीजों की दुकानें सज गई हैं। शहर में जगह-जगह तिलकुट की दुकानें सज गई हैं। शहर में स्थानीय के अलावा गया व सासाराम का तिलकुट भी बिक रहा है। हालांकि बाजार पर मंदी का असर दिख रहा है।

शहर में मकर संक्रांति को लेकर गोपाली चौक, नवादा चौक, टाउन थाना मोड़, पकड़ी चौक, देवी स्थान समेत अन्य स्थानों पर तिलकुट, चूड़ा समेत अन्य चीजों की दुकानें सज गई हैं। बाजार में चीनी का 150 रुपया से लेकर 250 रुपया तक तिलकुट बाजार में उपलब्ध है। वहीं गुड़ का तिलकुट 150 रुपया से लेकर 180 रुपया तक का तिलकुट मिल रहा है। मुढ़ी का लड्डू 20 रुपया दर्जन है। वहीं काला तिल का लड्डू 350 रुपया किलो है। लगभग 15 वर्षों से इस व्यवसाय से जुड़े लोगो ने बताया कि मकर संक्रांति को लेकर तिलकुट निर्माण दिसम्बर माह के प्रथम सप्ताह से शुरु हो जाता है। इसमें मुख्य रूप से चीनी व तील का इस्तेमाल किया जाता है। ये चीजें शहर में ही मिल जाती हैं। गत वर्ष की अपेक्षा तिलकुट पर मंदी का असर दिख रहा है। ग्राहकों की संख्या कम है। वहीं तिलकुट विक्रेता ने बताया कि शहर में गया व सासाराम का तिलकुट उपलब्ध है। लेकिन मंदी का असर साफ दिखाई दे रहा है। मांग बहुत ही कम है।

Subscribe us on whatsapp