पटना में निजी स्कूल से सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है। दानापुर लेखानगर स्थित निजी स्कूल होली क्रॉस इंटरनेशनल के एक सफाईकर्मी पर बुधवार को दूसरी कक्षा की छात्रा के साथ दुष्कर्म के प्रयास की बात प्रकाश में आई है। छह वर्षीय छात्रा विद्यालय के टॉयलेट गई थी, वहां पर पहले से मौजूद सफाईकर्मी पर गंदी हरकत करने का आरोप लगाया गया है। उसकी इस हरकत को देख छात्रा किसी तरह वहां से भाग निकली और अपनी एक सहेली को पूरी घटना बताया। इस घटना की शिकायत दोनों छात्राओं ने शिक्षकों और विद्यालय के प्राचार्य बी के ठाकुर को दी।

उसके बाद जैसा कि सूत्रों से जानकारी मिल रही है कि छुट्टी होने पर जब बच्ची की मां उसे लेने स्कूल पहुंची तो घटना की जानकारी बच्ची ने मा को दिया। मां ने इसकी सूचना अपने पति को तत्काल फोन कर दिया। वो भी आनन-फानन में स्कूल पहुंचे पीड़ित छात्रा के पिता ने वहां मौजूद दानापुर थाने की पुलिस को लिखित शिकायत दी, जिसके बाद पुलिस ने आरोपी सफाईकर्मी रामजी प्रसाद को फौरन गिरफ्तार कर लिया।


उसके बाद से स्थानीय लोग और अभिभावक जमा हो गए और ल स्कूल का गेट बंद करने पर लोगों का गुस्सा भड़क गया, गुस्साये लोगों ने पथराव शुरू कर दिया। लोगों ने इस घिनौनी हरकत पर स्कूल प्रशासन को भी दोषी करार दिया और जम कर तोड़ फोड़ हुई। आक्रोशित स्थानीय लोगों व अभिभावकों द्वारा स्कूल के निदेशक को गिरफ्तार करने की मांग की जा रही है। हंगामा करने वाले लोगों का कहना है कि पीड़िता के साथ कुछ अन्य लोग शिकायत करने स्कूल गए थे। लेकिन उनकी बात सुनने की जगह स्कूल के निदेशक बी के ठाकुर उल्टा उन सभी पर नाराज हो गए और गोली मारने की धमकी दे डाली। इस पर लोग और ज्यादा उग्र हो गए। मामले कि गंभीरता देख अतिरिक्त पुलिस बल को बुला लिया गया तथा सिटी एसपी पटना पश्चिमी भी मौके पर पहुंचे। हंगामा इतना ज्यादा बढ़ गया कि पुलिसनको हल्का बल प्रयोग करना पड़ा। 
मामला आज भी यलथा स्थिति कायम है स्कूल को सोमवार तक के लिए बंद कर दिया गया है। हालांकि स्कूल के निदेशक बीके ठाकुर का घटना पर कहना है की जैसे ही उन्हें जानकारी मिली उन्होंने अभिभावक को स्वयं बुलाया। पर अभिभावक जो आरोप लगा रहे हैं वह मेरी समझ से परे और बिल्कुल ही निराधार हैं। इस घटना से गुस्साए लोग सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं। वहीं पुलिस आपाना काम शुरू कर चुकी है। आरोपी को गिरफ्तार कर जांच पुलिस जांच में जुट गई है। एसपी सिटी एवं एसपी, पश्चिमी रविन्द्र कुमार ने बताया कि पीड़ित छात्रा के पिता द्वारा प्राथमिकी दर्ज कराया गया है।

इस मामले पर स्थानीय विधायक दानापुर आशा सिन्हा का कहना है कि लोगों ने पहले भी इस स्कूल का शिकायत किया था। अक्सर इस तरह की घटना के बारे में लोगों द्वारा चर्चा पहले भी होती रही है। उन्होंने कहा स्कूल प्रबंधन आरोपियों को बचाना चाहता है। विधायक ने छात्र-छात्राओं की सुरक्षा के मद्देनजर स्कूल को बंद करने की मांग प्रशासन से किया है। इस मामले पर पुलिस जांच में जुट गई है। पुलिस का दावा है कि जल्दी ही हकीकत सामने आ जायेगा।

Subscribe us on whatsapp