बिहार इंटरमीडिएट की चल रही परीक्षा के दौरान नवगछिया में दूसरे दिन की परीक्षा के पहली पाली में एक केंद्र से दो छात्राओं को कदाचार के आरोप में निष्कासित किया गया। जिनसे ₹4000 जुर्माने की राशि भी वसूली गयी। जिसकी पुष्टि अनुमंडल पदाधिकारी – मुकेश कुमार ने की है ।

जानकारी के अनुसार पटना से आये उड़नदस्ता टीम के सदस्यों ने बुधवार को नवगछिया स्थित जीबी कॉलेज परीक्षा केंद्र पर धावा बोला और यहां चल रही परीक्षा के दौरान रूम नंबर 7 से दो छात्राओं को आपस में नकल करते पाया। दोनों की कॉपी को मिलान भी किया गया। इसके बाद दोनों छात्राओं को परीक्षा से वंचित करते हुए निष्कासित कर दिया गया। दोनों छात्राएं मदन अहल्या महिला महाविद्यालय की थी। जिनका परीक्षा क्रमांक 1803 0144 तथा 1803 0145 था। इन दोनों छात्राओं से जुर्माने के रुप में 4000 की राशि भी वसूल की गई।

पटना से उड़नदस्ता टीम के पहुंचने के साथ ही सभी परीक्षार्थियों में हड़कंप मच गया। साथ ही अभिभावकों में भी काफी खलबली देखी गई। आपस में परीक्षा रूम के अंदर परीक्षार्थी द्वारा वार्तालाप करने के कारण कदाचार के आरोप में हुए इस निष्कासन की प्रक्रिया के होने से छात्राओं में काफी असंतोष फैल गया। वहीं अभिभावकों का आरोप था कि एक ओर जहां सरकार द्वारा कदाचारमुक्त परीक्षा का दावा तो किया जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ उड़नदस्ता टीम द्वारा बगैर पुख्ता सबूत के कदाचार के आरोप में परीक्षार्थी को परीक्षा से निष्कासन किया गया है ।
वहीं भागलपुर जिले के हर सेंटर पर काफी शांति पूर्वक दुसरे दिवस की परीक्षा सफल हुई ।

छाया :- विहान सिंह
राजपूत ,न्यूज बिहार ,भागलपुर संवाददाता

Subscribe us on whatsapp