न्यूज़ बिहार डेस्क।एक यात्रा जिसे न्यूज़ बिहार के अधिकांश दर्शक और शुभचिंतकों ने हमारे साथ किया है। इस सफर में हम सभी लगातार साथ रहे। जो कुछ भी रास्ते मे खुशी-दुख और खट्टे-मीठे अनुभव हुए, हम सभी ने साथ मिल कर उसे देखा समझा और महशुस किया।

इस दौरान कुछ ऐसी बातें हुई जिसे आप सभी के साथ साझा कर रहा हूँ। रातों रात सरकार को आपने हमारे साथ बदलते देखा है। जो कट्टर विरोधी थे उन्हें साथ आते, मंच शेयर करते देखा है। कल के दोस्त एक बारगी दुश्मन होते देखा है, तो बिना कुछ किये ही कुछ लोगों को मंत्रिमंडल से बाहर होते देखा है। अश्विनी चौबे से सुशील मोदी का मिलना, उसी सुबह न्यूज़ बिहार का अश्विनी चौबे के साथ लाईव खुलासा और बेबाकी से सवाल जवाब दिखाया। 

इस पूरी यात्रा में कुछ ऐसी भी बातें हुईं जिसने बिहार के राजनीति की दशा दिशा को बदल दिया। लालू की रैली से पूर्व हमने आपको पूरा हाल गांधी मैदान के सजने धजने से लेकर विधायकों के आवास और पटना की सड़कों पर रैली में आते लोगों को दिखाया। रैली का पूरा कवरेज तीन घण्टे तक हमने आपको सीधा लाईव दिखाया। इस लाईव को देखने वाले सभी दल के नेता और कार्यकर्ता थे।

इसमें जो सबसे अहम बात सूत्रों के माध्यम से सामने आई वो ये है कि केंद्र के साथ बिहार भाजपा में न्यूज़ बिहार की लाईव खबर और विश्लेषण लगातार देखा जा रहा था। कहीं से कोई प्रतिक्रिया नही नहीं आ रही थी। इस बीच भाजपा के बक्सर सांसद अश्विनी चौबे का एक ट्वीट आया “लालू जैसे चारा चोर लारा चोर मिट्टी खोर के साथ मंच साझा करने वालों को जनता ने खारिज कर दिया,सच्चाई से भागे हुए लोग का कुनबा जुटा है।” इस खबर ने जैसे भाजपा नेताओं में प्राणवायु का काम किया। उसके बाद से भाजपा नेता खुल कर बयान देने लगे। 

न्यूज़ बिहार ने सबसे पहले यह भी बताया था कि अश्विनी चौबे केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल हो रहे हैं। आज उनके शपथ लेने के बाद से यह प्रमाणित हो गया है कि न्यूज़ बिहार पल पल भर पल की खबर पर नज़र रखती है। ये सब कुछ आप सभी के स्नेह अपनापन और साथ के वजह से संभव हो पाया है। आगे भी हम बेबाकी से आपको जो है जैसा है Live दिखाते रहेंगे।

(विजय मिश्र बाबा)

निदेशक, प्रोग्राम हेड

न्यूज़ बिहार लाईव