पटना (अमन कुमार): कालिदास रंगालय मे मंच ,नौवतपुर की ओर से “चंडी का वशीकरण” का मंचन किया गया।वहीं कार्यक्रम का उदघाटन बिक्रम विधायक सिर्दाथ कुमार एवं पूर्व विधायक अनिल शर्मा ने किया. नाटक विलियम शेक्सपियर द्वारा लिखित नाटक का हिन्दी रूपांतरण “चंडी का वशीकरण” की प्रस्तुति हुई।जिसका निदेशक राजीव रंजन प्रसाद ने किया. नाटक में दिखाया गया कि मलाहीखनंदा गांव के अमीर जगबहादुर की बड़ी बेटी चन्दिका की भूमिका में विजया राज लक्ष्मी ने अपने अभिनय से दिखाया कि स्वभाव से काफी उग्र और सनकी हैं।चंन्दिका के स्वभाव के बारे में खजूरी गांव के दीनानाथ को पता चलता है।और वह उससे शादी कर वश मे करने में सफल होता है।जिससे दोनों के बीच निशब्द प्रेम की उत्पत्ति हास्यरूप मे होती हैं।पूरे नाटक में विजय राज लक्ष्मी और दीनानाथ का अभिनय ने दशकों खुब हंसाया कलाकार मे रजनीकांत, दीनानाथ, सोनू,ओमप्रकाश, हौविन्स राजीव, हेमंत आर्या आदि शामिल थे।संगीत पर ओमप्रकाश फजल,नाल पर सुशील कुमार एवं हारमोनियम पर परमेन्द्र दयाल थे।