अररिया :अररिया में बीते साल आए बाढ़ में सड़क टूटने से माँ बेटे के परिजन को तो मुआवजा मिला, लेकिन परिजन ने इस राशि को प्राप्त करने के लिए 80 हजार घूस दिया।मृतका जहाँ आरा के पति ने बताया मुआवजा के लिए पाँच महीने तक कार्यालय का चक्कर काटा।उसके बाद भी अधिकारी को 60 हजार और दलाल को 20 हजार देना पड़ा ।पति का कहना है कि पत्नी के साथ बच्चा भी बह गया था ।तो वहीं दूसरी ओर जिला आपद प्रबंधन पदाधिकार शंभू कुमार का कहना है उस हादसे में केवल महिला ही बही थी।जिन्हें मुआवजा दे दिया गया है।घूस लेने का मामला प्रमाणित नहीं हो पाया है।मृतका के पति नसीम का कहना बच्चा का मुआवजा अभी तक नहीं मिला है।यहां बता दें कि बाढ़ की यह घटना राष्ट्रीय स्तर के सभी टीवी चैनल पर चली थी और अखबारों में छपी थी।13 अगस्त 2017 की यह दर्दनाक विडियो बहुत ज्यादा वायरल हुई थी ।यह घटना जिरो माईल स्थित बैरियर पुलिया की है।उस समय बाढ़ ने सिमांचल में बहुत तबाही मचाई थी ।इस मुद्दे पर अररिया विधायक आबिदुर्रहमान ने कहा मामले को विधानसभा में उठाएंगे, प्रशासन संवेदनशील नहीं है।

Subscribe us on whatsapp