बक्सर : लगता है अब कलयुग में भगवान भी सुरक्षित नहीं हैं ! इसका प्रमाण सिमरी में देखने को मिला, जहाँ प्राचीन कालरात्रि मंदिर से माँ काली की प्रतिमा से लगभग ढाई लाख रुपये के गहने चोरों ने चुरा लिए.

मामले में मां कालरात्रि मंदिर प्रबंध कमेटी के अध्यक्ष रामदास राय ने सिमरी थाने में दिए आवेदन में बताया कि मंदिर में पूजा-अर्चना के लिए पुजारी वंशीधर मिश्र, पिता – स्वर्गीय मंगल नारायण मिश्र, ग्राम राघोपुर थाना रामोपट्टी, जिला-मधुबनी को नियुक्त किया गया है. सुबह करीब 6:00 बजे पुजारी द्वारा प्रबंध कमेटी के सदस्यों को सूचित किया गया कि मंदिर में चोरी हो गई है. इसके बाद कमेटी के सदस्य जब मंदिर पर पहुंचे तो देखा कि मुख्य द्वार जिस पर ताला लगा था. उसकी कुंडी को आरी से काटा गया है. अंदर जाने पर देखा गया कि मां की प्रतिमा पर के सभी आभूषण तथा उनकी सोने की आंखें एवं उनके वाहक गधे की सोने की आंखें भी अज्ञात चोरों द्वारा चोरी कर ली गई है.

बताया जा रहा है कि चोरी की गई संपत्ति की कीमत लगभग ढाई लाख रूपए है. घटना की सूचना मिलते ही घटना स्थल पर पहुंची पुलिस जांच में जुट गई है. वहीं दूसरी तरफ गांव के युवाओं, भक्तों व कमिटी के बुजुर्गों द्वारा मंदिर में विराजमान माता कालरात्रि के गहनें, जेवर तत्काल बनाने का निर्णय लिया गया.

Subscribe us on whatsapp