न्यूज़ बिहार डेस्क ।पटना :वित मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता में हैदराबाद में हो रही जीएसटी कौंसिल की 21 वीं बैठक में छोटे व्यापारी, निर्माता और रेस्टूरेंट संचालकों को राहत देते हुए कम्पोजिशन स्कीम में शामिल होने की अंतिम तिथि जो 16 अगस्त को समाप्त हो चुकी थी को बढ़ा कर 30 सितम्बर कर दिया गया है। 

अब तक कम्पोजिशन स्कीम में पूरे देश  में 10 लाख जबकि बिहार में 36,470 व्यापारी शामिल हुए हैं। नए व्यापारियों के साथ जीएसटी में पूर्व में निबंधन करा चुके व्यापारी भी बढ़ी हुई तिथि तक इस स्कीम में शामिल हो सकते हैं। 

इसी प्रकार अनेक तरह की तकनीकी परेशानियों की मद्देनजर जुलाई महीने की पहली विवरणी दाखिल (Return File) करने की जो तिथि भी 10 सितम्बर थी को एक महीने के लिए बढ़ा कर 10 अक्तूबर तक कर दिया गया है। अब तक मात्र 20 लाख व्यापारी ही विवरणी दाखिल कर पाए हैं। 

जीएसटी के अन्तर्गत पूरे देश  में अब तक लगभग 94 हजार करोड़ टैक्स जमा हुआ है जबकि यह आंकड़ा 1 लाख करोड़ को पार कर सकता है जो काफी उत्साहवर्द्धक है। बिहार में अब तक 2.47 लाख व्यापारी जीएसटी में रजिस्टर्ड है। स्कीम में शामिल होने तिथि 30 सितम्बर तक बढ़ी -सुशील मोदी

वित मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता में हैदराबाद में हो रही जीएसटी कौंसिल की 21 वीं बैठक में छोटे व्यापारी, निर्माता और रेस्टूरेंट संचालकों को राहत देते हुए कम्पोजिशन स्कीम में शामिल होने की अंतिम तिथि जो 16 अगस्त को समाप्त हो चुकी थी को बढ़ा कर 30 सितम्बर कर दिया गया है। 

अब तक कम्पोजिशन स्कीम में पूरे देश  में 10 लाख जबकि बिहार में 36,470 व्यापारी शामिल हुए हैं। नए व्यापारियों के साथ जीएसटी में पूर्व में निबंधन करा चुके व्यापारी भी बढ़ी हुई तिथि तक इस स्कीम में शामिल हो सकते हैं। 

इसी प्रकार अनेक तरह की तकनीकी परेशानियों की मद्देनजर जुलाई महीने की पहली विवरणी दाखिल (Return File) करने की जो तिथि भी 10 सितम्बर थी को एक महीने के लिए बढ़ा कर 10 अक्तूबर तक कर दिया गया है। अब तक मात्र 20 लाख व्यापारी ही विवरणी दाखिल कर पाए हैं। 

जीएसटी के अन्तर्गत पूरे देश  में अब तक लगभग 94 हजार करोड़ टैक्स जमा हुआ है जबकि यह आंकड़ा 1 लाख करोड़ को पार कर सकता है जो काफी उत्साहवर्द्धक है। बिहार में अब तक 2.47 लाख व्यापारी जीएसटी में रजिस्टर्ड है।