भोजपुर, शाहपुर में शुक्रवार को स्थानीय लोगों द्वारा पकड़े गए मांस (गौ मांस) लदे ट्रक के साथ पकड़े गए किसी भी अपराधी के साथ किसी तरह की मारपीट नही की गई। न्यूज़ बिहार को बताया गया कि ट्रक पकड़ने में बीजेपी नेता चंदन पांडेय, अंकित पांडेय राकेश तिवारी और पंकज तिवारी, बजरंगदल कार्यकर्ता निशू राव, कृष्णकांत सिंह, धोनी आदि तथा पुरोहित चेरिटेबल ट्रस्ट के मुकेश पुरोहित, संतोष पुरोहित धर्मेंद्र पुरोहित आदि शामिल थे।

हांलाकि कई समाचार मारपीट की घटना बता रहे हैं जो कि बिल्कुल ही निराधार है और बदनाम करने की शाजिश है। ओझा ने न्यूज़ बिहात को बताया कि युवाओं ने बहुत ही सराहनीय कार्य किया है। किसी भी तरह की अप्रिय घटना नह घटी इतने बड़े अपराध और अपराधियों को सबूत सहित जकड़ने के बाद भी। उन्होंने कहा कि “हमने पुलिस को शाहपुर के रानीसागर क्षेत्र में चल रहे अवैध बूचड़खाने के बारे में काफी समय से जानकारी दे रहे थे, लेकिन पुलिस ने हमारी बात नही मानी।” पर जब सबूत सामने आ गया तो अब कार्यवाई करने में विलंब क्यों हो रहा है। कोई भी भाजपा से जुड़ा संगठन नाहक विरोध नही करना चाहते। बिहार में अब भाजपा सरकार का हिस्सा है, जिससे हमारा मनोबल बढ़ गया है और हमें पूरी उम्मीद है कि हिन्दू भावनाओं को आहत करने वाली घटनाओं पर विराम लगेगा। बिहार सरकार में उपमुख्यमंत्री श्री सुशील मोदी जी ने मुझसे घटना की विस्ततित जानकारी लिया और उचित कार्यवाई फौरन करने का आश्वासन दिए।

आगे ओझा ने बताया कि शाहपुर विधानसभा के अंतर्गत आने वाले कुछ मुस्लिम बहुल क्षेत्र रानीसागर, बगाही आदि में अक्सर इस तरह की गड़बड़ी की खबरें आती रहती हैं। सरकार ने भी अवैध मांस के व्यापार पर लगाम लगाने की बात कही है। बिहार भाजपा के शीर्ष नेताओं ने यह सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि “कोई भी अप्रिय घटना नहीं हो” ओझा ने कहा कि हम आज किसी तरह का विरोध या प्रदर्शन नहीं कर रहे हैं, क्योंकि हमें उम्मीद है कि पुलिस कार्रवाई करेगी। हम सभी अपनी पर पूरा भरोसा करते हैं और यह भी विश्वास है कि क्षेत्र में अब अवैध गौमांस का व्यापार पर लगाम लगाया जाएगा।

Subscribe us on whatsapp