बिहार कोंग्रेस के पूर्व अध्यक्ष एवं पूर्व शिक्षा मंत्री डॉ अशोक चौधरी ने ट्वीट करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से वीवीआईपी कल्चर खत्म करने का आग्रह किया है। अशोक चौधरी ने अभी अभी Twitter पर नरेंद्र मोदी, नीतीश कुमार और राहुल गांधी को टैग करते हुए एक ट्वीट किया है। जिसकी बाद एक नई चर्चा को बल मिला है कि क्या एयरपोर्ट्स और अन्य जगहों पर वीवीआईपी मूवमेंट खत्म नहीं कर देना चाहिए।

अभी कल ही केंद्रीय पर्यटन मंत्री अल्फांस कन्नीनाथम और एक महिला का वीडियो लगातार वायरल हो रहा है, जिसमें महिला ने खुद को डॉक्टर बताया है। और यह बताया कि अल्फांसो की वजह से उसकी फ्लाइट 40 मिनट लेट हो गई। बताया जा रहा है कि वीडियो में जो महिला है वह पटना की है और उसकी फ्लाइट केंद्रीय मंत्री के देर से आने की वजह से लेट हो गई थी। मणिपुर की राजधानी इम्फाल में वीवीआईपी शेड्यूल की वजह से फ्लाइट में देरी होने पर महिला ने एयरपोर्ट पर ही केंद्रीय मंत्री केजे अल्फोंस को जमकर लताड़ लगाई. महिला ने केंद्रीय मंत्री से उनकी आने में देरी की वजह फ्लाइट के टेक ऑफ नहीं होने पर नाराजगी जाहिर की. महिला ने अल्फोंस से कहा, ‘मैं अपनी नौकरी छोड़कर अपने घर पटना जा रही हूं और 2.45 बजे फ्लाइट की टाइमिंग थी. लेकिन आपकी वजह से फ्लाइट में देरी हुई. बता दें कि अल्फोंस केंद्रीय पर्यटन राज्य मंत्री है.

वीडियो में महिला ये बोलती नजर आ रही है कि उसके घर में किसी की मौत हुई है और घर पर शव उसके इंतजार में रखा हुआ है. महिला ने कहा, ‘एक डॉक्टर होने के नाते मुझे पता है कि शव से बदबू आ रही होगी लेकिन आपकी की वजह से देरी हुई और मैं नहीं पहुंच सकी. वहीं इस दौरान केंद्रीय मंत्री अल्फोंस महिला को समझाते नजर आए. बचाव की मुद्रा में आए मंत्री ने इस दौरान सिर्फ इतना कहा कि वीवीआईपी प्रोटोकॉल का पालन किया जा रहा था. लेकिन महिला बेहद गुस्से में नजर आ रही थी.

इस घटना की वीडियो ने सभी न्यूज़ चैनलों पर अपनी जगह बनाई इसके बाद यह चर्चा शुरु हो गई थी कि क्या वीवीआईपी मूवमेंट की वजह से आम लोगों को तकलीफ नहीं होती है? और क्या सरकार इसका कोई उपाय नहीं निकाल सकती है? 

अभी कुछ दिन पहले ही लाल बत्ती कल्चर को खत्म किया गया था जिसका अशोक चौधरी ने भी स्वागत किया था। हालांकि आज अशोक चौधरी ने इस वीवीआईपी मूवमेंट को भी खत्म करने की गुजारिश नरेंद्र मोदी और नीतीश कुमार से कर दी जिसके एक और चर्चा वीवीआईपी कल्चर को खत्म करने के लिए शुरू हो गई। उनके इस ट्वीट का समर्थन कई लोगों ने किया और ऐसे ट्वीट के लिए अशोक चौधरी को बधाई भी दी।

Subscribe us on whatsapp