न्यूज़ बिहार डेस्क।खगौल :सरकारी अनुशंसा के बाबजूद वषों से सैदपुरा स्थित आम गैर मजरूआ मदिर की 74 डिसमिल जमीन पर से अतिक्रमण हटाने की बात तो और दुर तेजी से अतिक्रमण जारी हैं इस को लेकर स्थानीय नागरिकों मे भारी आकोश जारी हैं जो कभी भी लावा बन कर फुट सकता है इस को लेकर वषों से कई बार स्थानीय नागरिक सरकार और प्रशासन को आवेदन लिख कर गुहार लगाती आ रही है इधर फिर दानापुर के अनुमंडलाधिकारी को इस सम्बन्ध मे आवेदन दिया गया है स्थानीय ग्रामवाषी बबन प्रसाद, जवाहर प्रसाद, पारस प्रसाद, कन्हाई प्रसाद, अमन कुमार आदग का कहना है कि मंदिर की जमीन पर से अतिक्रमण हटाने की मांग को लेकर पिछले 9-5-16 को एस डीओ को पत्र लिख कर जमा किया गया था लेकिन आज तक सभी मूकदर्शक बना है इधर स्थानीय विधायिका आशा सिन्हा की ओर से मुख्यमंत्री नगर विकास योजना के अंतर्गत 35 लाख की राशि से खाली जमीन पर सामुदायिक भवन बनाने की अनुशंसा वष 2013-14 मे  ही कि गया था यह जमीन आमगैर मजरुआ  है जिसका मौजा सैदपुरा, थाना-51 खाता-136,खेसरा-322, रकबा-74 डिसमिल है इस पहले अंचलाधिकारी दारा जमीन का निरिक्षण भी किया गया निरिक्षण मे आसपास के कुल दस लोगों द्रारा अतिक्रमण की बात भी सामने आयी इस के बाबजूद सरकार ओर प्रशासन द्रारा अतिक्रमण मुक्त करने की बात त़ो दुर ,प्रशासन की उदासीनता के  कारण और भी तेजी से अतिक्रमण जारी  हैं इस वजह से सामुदायिक भवन निर्माण का भी काम आधार मे लटक गया है इस के लिए सरकार और प्रशासन से मांग  हैं कि मंदिर की जमीन पर  ह़ो रहे अतिक्रमण पर ऱ़ोक लगा कर तत्काल अतिक्रमण से मुक्त कराया जाय अन्यथा इस के लिए शांतिपूर्ण जन आन्दोलन किया जायेगा इस से कोई अप्रिय घटना की आशका है वही ग्रामीण द्रारा विधायिका से 25-06-17 को सामुदायिक भवन की मांग की गयीं पूव पाषद मनोज कुमार”बाबा”,स्थानीय निवासी विजय कुमार, राज कुमार सिंह आदि लोगों ने मांग की!